अगर आप भी सबकी बात मान लेते हैं, तो इस ग़ज़ल को जरूर पढ़ें